The best learning & Training institution

ANew Era Of Saving Life

Fire & Safety: Everyday Job

About us

D-ONE LEVEL 4 (FIRE & SAFETY INSTITUTE)

D-ONE Offering Course in FIRE & SAFETY Industry With Complete Physical Training Fire & Safety is a valuable one for those aspiring to reach the higher echelons in the field of industrial and fire safety. The course teaches you all about how fires work. How they affect the surrounding environment, the built structures and their psychological effects on us humans, is also dealt with. From the constituent structure of a flame to how a spray of water effects the resulting cloud of smoke, fire engineering gets into greater details about the fundamentals of fire and its prevention. The course also lays emphasis on designing of buildings and structures taking in consideration fire prevention.

The course provides a hands-on learning approach that helps you in getting employed

2

Branches

118

Total Students

58

Placements

2

Training Centers

Training Module

Admission

Level-1 Documents Verification - Medical - Seat Confirmation -Enrollment

Skill-Development

Level-2 Attend Classes Regularly -Personality Development- English Spoken- Learn Computer Education- Govt. Exam Preparation

Training

Level-3 Attend Ground Classes Regularly -Physical Training -Practical Attachment Certification-Fire Station Visits -Demonstration

Placement

Level-4 Final Exam -Certification - C.V - Attend Interviews -Selected For On-Job-Training - Contract Basis Job - Direct Payroll Or Govt.Jobs

Testimonial

  • ऐसे बनाएं फायर इंजीनियरिंग में अपना करियर...
    अगर आपको 'आग' से खेलना पसंद है, तो फायर इंजीनियरिंग को करियर के रूप में अपना सकते हैं। इस फील्ड में जॉब ऑप्शंस भी शानदार हैं। आमतौर पर गर्मी के महीनों में आग लगने की घटनाएं बढ़ जाती हैं। वैसे, ऊंची-ऊंची इमारतें, बड़े-बड़े मॉल्स आदि भी आग से पूरी तरह सुरक्षित नहींहैं। यदि आग अनियंत्रित हो जाए, तो काफी नुकसान भी उठाना पड़ता है। ऐसी स्थिति से निपटने के लिए फायरफाइटर्स की जरूरत होती है। इस तरह के प्रोफेशनल्स फायर इंजीनियरिंग से जुड़े लोग होते हैं, जो जानते हैं कि आग को कैसे नियंत्रित किया जा सकता है।

  • क्वालिफिकेशन :
    फायर इंजीनियरिंग से जुड़े अधिकांश कोर्स For Only 10th or 12th Passout Candidates स्तर पर उपलब्ध हैं, फायर इंजीनियरिंग से रिलेटेड सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं। कोर्स के दौरान आग बुझाने के विभिन्न पहलुओं के बारे में जानकारी दी जाती हैं। साथ में, बिल्डिंग निर्माण के बारे में भी बताया जाता है, ताकि आग लगने की स्थिति में उसे बुझाने में ज्यादा परेशानी न हो।

  • इसमें फिजिकल फिटनेस केमा‌र्क्स भी जोड़े जाते हैं।

    पुरुष के लिए 50 किलो के वजन के साथ 165 सेमी. लंबाई और आईसाइट 6/6, सीना सामान्य रूप से 81 सेमी. और फुलाने के बाद 5 सेमी. फैलाव होना जरूरी है। महिला का वजन 46 किलो और लंबाई 157 सेमी और आईसाइट 6/6 होनी चाहिए।

  • जॉब प्रोफाइल

    इस फील्ड में आप असिस्टेंट, सेफ्टी इंस्पेक्टर, सेफ्टी इंजीनियर, सेफ्टी ऑफिसर, सेफ्टी सुपरवाइजर, फायर प्रोटेक्शन टेक्नीशियन, सेफ्टी ऑडिटर, फायर सुपरवाइजर, हेल्थ असिस्टेंट, एनवायरनमेंट ऑफिसर, फायर ऑफिसर आदि के रूप में काम कर सकते हैं।

  • जॉब ऑप्शन
    फायर इंजीनियरिंग से जुड़े लोगों के लिए गवर्नमेंट और पब्लिक सेक्टर में काफी संभावनाएं हैं। इस फील्ड सेजुड़े प्रोफेशनल्स रेलवे, एयरफोर्ट ऑथॉरिटी ऑफ इंडिया, डिफेंस, इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड, ओएनजीसी, माइंस, रिफाइनरिज, पेट्रोकेमिकल्स कॉम्प्लेक्स आदि में जॉब की तलाश कर सकते हैं। सैलरी पैकेज जूनियर या असिस्टेंट फायर इंजीनियर की शुरुआती सैलरी 10-25 हजार रुपये प्रतिमाह हो सकती है। प्राइवेट सेक्टर में कुछ वर्ष का वर्क एक्सपीरियंस रखने वाले प्रोफेशनल्स को वरीयता मिलती है और सैलरी काबिलियत के अनुसार मिलती है।

Our Patrons

D-ONE NETWORK

  • D-ONE LEVEL 4 (H.O) (Bagar-333023-Jhunjhunu-Rajasthan)
  • (Corporate Office) At Jaipur-Rajasthan (Branch Office) At Jhunjhunu-Rajasthan & Narnaul-Haryana (Regional Office) At Gudha-Rajasthan
  • BAGAR-JHUNJHUNU-RAJASTHAN
    01592-222001